राजस्थान के प्रमुख बाँध एवं बावड़ियाँ

जवाई बाँधः-

यह बाँध पाली जिले के सुमेरपुर में जवाई नदी पर स्थित हैं। यह पश्चिमी राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध हैं। इसका निर्माण 13 मई, 1946 को जोधपुर के महाराजा उम्मेदसिंह द्वारा इंजीनियर एडगर की देखरेख में करवाया। इस बाँध को मारवाड़ का अमृत सरोवर कहा जाता हैं।

बीसलपुर बाँध परियोजनाः-

यह बनास, डाई एवं खारी के त्रिवेणी संगम पर राजमहल (टोंक) में स्थित हैं। यह

राजस्थान की सबसे बड़ी पेयजल परियोजना हैं। इससे टोंक, अजमेर एवं जयपुर को पेयजल उपलब्ध होता हैं। यह राजस्थान का एकमात्र कंक्रीट से बना हुआ बाँध हैं।

बारेठा बाँधः-

यह भरतपुर का सबसे बड़ा बाँध हैं। इसका निर्माण कुकुन्द नदी पर 1897 में रामसिंह के समय करवाया गया। इस बाँध की बनावट एक जहाज जैसी हैं।

पाँचना बाँध परियोजनाः-

यह करौली जिले में स्थित हैं। यह बाँध अमेरिका के सहयोग से बनाया गया हैं। यह राजस्थान में सबसे बड़ा मिट्टी का बाँध हैं।

चाँद बावड़ीः-

यह आभानेरी (दौसा) में स्थित हैं। यह बावड़ी प्रतिहार निकुम्भ राजा चांद द्वारा निर्मित हैं। यह बावड़ी 8 वी शताब्दी के मन्दिरों के प्रसिद्व हैं।

मेजा बाँधः-

यह माण्डलगढ़ (भिलवाड़ा) में स्थित हैं। यह कोठारी नदी पर बना हुआ हैं। इस बाँध पर बनाये गये मेजा पार्क को “ग्रीन माउण्ट“ के नाम से जाना जाता हैं।

राजस्थान कि अन्य प्रमुख बाँध एवं बावड़ियाँ और उनके स्थानः-

लसाड़िया बाँध, नारायण सागर बाँध एवं डिग्गी तालाब = अजमेर

अनूप सागर और गजनेर बाँध = बीकानेर

उम्मेद सागर, तख्त सागर, जसवंत सागर, तापी बावड़ी, कातन बावड़ी एवं महिला बाग का झालरा = जोधपुर

बाटाडू का कुआँ और नाकोड़ा बाँध = बाड़मेर

खारी बाँध, अड़वान बाँध, रामसागर बाँध, चमना बावड़ी, बाई राज कि बावड़ी एवं चैखी बावड़ी = भीलवाड़ा

भूपालसागर बाँध, राणाप्रताप सागर एवं घोसुन्डा बावड़ी = चितौड़गढ़

माही बजाज सागर बाँध = बाँसवाड़ा

जाखम बाँध = प्रतापगढ़

तालछापर बाँध = चुरू

अजीतसागर बाँध, मेड़तणी की बावड़ी एवं चैतनदास की बावड़ी = झुन्झुनँू

माधोसागर बाँध, रेड़ियो बाँध, चाँद बावड़ी, आलूदा का बुबानिया का कुण्ड = दौसा

तनालाबशाही, पार्वती बाँध एवं लम्बी बावड़ी = धौलपुर

गरदड़ा बाँध, रानी जी की बावड़ी, संतूरमाता सिंचाई परियोजना एवं अनारकली की बावड़ी = बूँदी

परवन परियोजना, तपसी की बावड़ी एवं औस्तीजी की बावड़ी = बाराँ

जवाहर सागर बाँध, सावन भादो बाँध, अलनिया बाँध, कोटा बाँध एवं बड़ गाँव की बावड़ी = कोटा

टोरड़ी सागर बाँध, हाड़ी रानी की बावड़ी एवं शुद्व सागर = टोंक

हेमावास बाँध और बाँकली बाँध = पाली

त्रिमुखी बावड़ी एवं उदय बावड़ी = डूँगरपुर

रामगढ़ बाँध, काणोता बाँध एवं पन्ना मिणा की बावड़ी = जयपुर

मंसा सागर बाँध एवं नीमराणा की बावड़ी = अलवर

पीपलदा एवं ईसरदा = सवाईमाधोपुर

भीम सागर बाँध, कालीसिंध बाँध = झालावाड़

दूध बावड़ी = माउण्ट आबू

राजस्थान के बाँध एवं बावड़ी से सम्बधित महत्वपूर्ण प्रश्न

Also Check –

राजस्थान कें प्रमुख लोकदेवता 

राजस्थान की प्रमुख नहर परियोजना

Similar Questions – 

Q. 1 राजस्थान नदियाँ – Rajasthan ki Nadiyan
Q. 2 राजस्थान का सबसे बड़ा बांध – Rajasthan ka sabse bada bhand
Q. 3 राजस्थान का सबसे लंबा बांध – Rajasthan ka Sabse Lamba bhand
Q. 4 राजस्थान अपवाह तंत्र – Rajasthan ka Apvah Tantra
Q. 5 राजस्थान की नदियां ट्रिक – Rajasthan ki Nadiyan Trik
Q. 6 राजस्थान की झीले – Rajasthan ki Jheenle
Q. 7 राजस्थान का सबसे ऊंचा बांध – Rajasthan Ka Sabse Uncha Bandh

2 Comments

  1. Chand kanwar

    Aapka pryas sarahniye h aise aur video banao

    Reply
  2. MANOJ JANGID

    ACHHE QUESTION H ESE HI DALTE RHA KRO PLZ

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *